True hindi story in hotel

The incident of Acid – Akash

चलो फ़ेक दिया सो फ़ेक दिया अब क़सूर भी बता दो मेरा तुम्हारा इज़हार था मेरा इंकार था बस इतनी सी बात पर फूँक दिया तुमने चेहरा मेरा……. ग़लती शायद मेरी थी प्यार तुम्हारा देख ना सकी इतना पाक प्यार था की उसको में अब समज ना सकी….. अब अपनी ग़लती मानती हू क्या अब …

The incident of Acid – Akash Read More »