Poem

A silent girl…..by kaali (Akash

Sad hindi story

एक ओरत की कलम से … छोटी थी जब,  बहुत ज्यादा बोलती थी माँ हमेशा झिडकती , चुप रहो ! बच्चे ज्यादा नहीं बोलते . थोड़ी बड़ी हुई जब , थोड़ा ज्यादा बोलने पर माँ फटकार लगाती चुप रहो !…
Read more

मेरा कमरा – kAASH

Romantic hindi story

बहुत दिनों से बिखरा हुआ कमरा आज समेटा है, जो ढूंढ रहा था वो तो नहीं मिला पर हाँ कुछ है जो मिला है, उस में थोड़ा कुछ मेरा है, बाकी तुम्हारा, वो Mascara जिसको तुम सिर्फ मेरे लिए लगाया…
Read more

मैं तुमसे प्यार करना चाहता हूँ – kAASH

true sad love story in hindi

काश तुम बयां होती शब्दों में, मै तुम्हे लिखना चाहता हूँ, और जहां छोड़ दे सब तेरा साथ वहाँ भी तेरे साथ दिखना चाहता हूँ, मैं हँसना चाहता हूँ, तेरे साथ रोना चाहता हूँ, अगर गम हो तुझे कोई, तो…
Read more

error: