Tag Archive: Romantic hindi poem

Khud kiTalash Abhi baki hai – Chanchal

Sad hindi poem

खुद की तलाश मे भटकती सी “मैं ” अनगिनत, अनन्त, असीम सवालो के संग! न जाने किस अधूरे पन को भरती सी- मैं | कई रिश्ते, जज्बात, रास्ते, और मंजिलों से गुजरती सी मैं | न जाने कितने एहसासों मै…
Read more

Chand – Ajay

Heart touching lines

गंगा की शांत सतह पे वो एकादसी का चंद्रमा घाटों पे लगा वो नौंको का डेरा सीढ़ियों पे बैठे हम भी कुछ शांत से ही है लेकिन मन को है पानी के लथेड़ों ने घेरा मेरा मन भी है गंगा…
Read more