Tag Archive: hindi love poem

Unki khariyat ke liye – Raushan & Angel

True love hindi poem

उनकी खैरियत के लिए उन से दूर हुए हम. रोज टूटे और मजबूर हुए हम. करते रहे वफा पर बेवफाई ही मिला मुझे. जहां थी मेरी बस बर्बादी के ही अफसाने. शायद इसीलिए उनके शहर से दूर हुए हम.!! पहले…
Read more

अब लौट आ यार सोना – Babulal Jakhar

Romantic hindi poem

ऐ सोना ,अपने दिल से पूछो ज़रा,क्या आज भी ये हमारा नही.. तुम चाहे लाख मुँह मोड़ लो पर तेरे दिल को ये गवारा नही… अगर तुम ना जाती हमको ऐसे बीच रास्ते मे छोड़कर,कसम खुदा कीें तो मैं फिरता…
Read more